Tahelka news

www.tahelkanews.com

घनी आबादी वाले मोहल्ले स्थित पटाखा गोदाम में लगी भयंकर आग,चार लोगों की मौत व कई घायल,गोदाम मालिक की तबियत बिगड़ी,वर्ष 2021में भी लग चुकी है पटाखा फैक्ट्री में आग

रुड़की।मेन बाजार स्थित पंचायती धर्मशाला के निकट एक पटाखा गोदाम में भयंकर आग लग जाने से चार लोगों की जलकर मौत हो गई तथा कई अन्य लोग झुलसकर गंभीर रूप से घायल हो गए।तेज धमाकों के साथ पटाखा गोदाम में लगी आग से मोहल्ले में अफरा-तफरी मच गई।सिविल लाइन कोतवाली क्षेत्र अंतर्गत में हुई घटना की सूचना मिलते ही फायर ब्रिगेड की गाड़ियां तुरंत आग बुझाने के लिए घटनास्थल पर पहुंची,जिन्होंने बड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया,साथ ही फॉरेंसिक जांच के लिए भी एक टीम रुड़की पहुंच गई है।

जानकारी के अनुसार पटाखा गोदाम में करीब आधा दर्जन मजदूर पटाखा बनाने का कार्य कर रहे थे,कि अचानक चरखी की चिंगारी से गोदाम के अंदर रखे पटाखों ने आग पकड़ ली और देखते ही देखते आग ने भयंकर रूप धारण कर लिया,जिस कारण गोदाम के अंदर कार्य कर रहे मजदूरों को इस भयंकर आग ने अपनी चपेट में ले लिया।आसपास के लोगों ने बड़ी मुश्किल से दीवार को तोड़कर जले हुए लोगों को बाहर निकाला एवं मौके पर पहुंची एंबुलेंस के माध्यम से उन्हें सरकारी अस्पताल भिजवाया।यहां पर चार लोगों की मृत्यु की सूचना मिली है तथा दो लोगों को इलाज के लिए हायर सेंटर भेजे जाने की भी जानकारी मिली है। पटाखा गोदाम के स्वामी आलोक जिंदल की घटना के पश्चात से तबीयत बिगड़ गई।वहीं घटना को लेकर मृतक लोगों के परिजनों में मातम छा गया और बड़ी संख्या में उनके परिजन तथा मोहल्ले वासी राजकीय अस्पताल में शव विच्छेदन ग्रह पर जाकर एकत्रित हो गए व पीड़ितों के लिए उचित मुआवजे की मांग करने लगे।स्थानीय लोगों ने आबादी वाले क्षेत्र में चल रहे इस तरह के पटाखा गोदाम को लेकर गहरी चिंता व्यक्त की। कहा कि इस तरह के पटाखे गोदाम घनी आबादी वाले क्षेत्र में नहीं होने चाहिए,इनके घनी आबादी वाले क्षेत्र में होने से कोई भी अप्रिय बड़ी घटना घटित हो सकती है,जिस पर पुलिस प्रशासन को संज्ञान लेकर उचित कार्रवाई करनी चाहिए। बताया जाता हे की मार्च 2021में भी कलियर क्षेत्र में पटाखा बनाने वाली फैक्टरी में आग लग जाने से दो व्यक्तियों को मौत हो गई थी, आग लगने की सूचना मिलते ही  वरिष्ठ अधिकारी एवं आला पुलिस अधिकारी भी मौके पर पहुंचे,जिन्होंने घटना का जायजा लिया,वहीं दूसरी ओर अनेक जनप्रतिनिधि जिनमें मेयर गौरव गोयल,पार्षद बेबी खन्ना,नितिन त्यागी, आशीष अग्रवाल,चंद्रप्रकाश बाटा,संजीव राय,हरीश शर्मा,डॉ.नैयर काजमी,सचिन गुप्ता,अफजल मंगलौरी,हाजी नौशाद अहमद,मुमताज अब्बास नकवी,यासीन माहीगिर,जमशेद उर्फ काला,अजय गुलाटी,भरत कपूर,विकास बंसल आदि ने भी मौके पर पहुंच कर घटना की जानकारी ली तथा पीड़ित परिवारों का ढांढस बंधाया।

You may have missed

%d bloggers like this: