Tahelka news

www.tahelkanews.com

चंद्रयान-3 की सफलता पर प्रसारण देख रहे बीडी इंटर कॉलेज के छात्र-छात्राओं ने कहा विजय विश्व तिरंगा प्यारा, झंडा ऊंचा रहे हमारा, प्रधानाचार्य ने ISRO की टीम को दी शुभकामनाएं

भगवानपुर,, 23 अगस्त 2023 को जैसे ही 6:04 पर चंद्रयान-3 ने चंद्रमा पर अपना पहला कदम रखा वैसे ही टी वी चैनल पर तथा यूट्यूब पर इसका सजीव प्रसारण देख रहे बी डी इंटर कॉलेज भगवानपुर हरिद्वार के छात्र-छात्राएं खुशी से झूमने लगे और एक दूसरे को बधाइयां देते हुए *भारत माता की जय* तथा
*विजय विश्व तिरंगा प्यारा*
*झंडा ऊंचा रहे हमारा* के उद्घधोष करने लगे।
इस अवसर पर विद्यालय के प्रधानाचार्य संजय गर्ग ने भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन के समस्त वैज्ञानिकों को बधाई देते हुए कहा कि इसरो के *चंद्रायन-3 महाअभियान की यह उपलब्धि निश्चित रूप से बहुत ही शानदार, अविस्मरणीय तथा अभूतपूर्व है। यह हमारे वैज्ञानिकों के दृढ़ संकल्प तथा अथक परिश्रम की पराकाष्ठा का परिणाम है जिन्होंने दिन रात एक करके अपनी पुरानी असफलताओं से सबक लेते हुए इस अभियान को सफल अंजाम तक पहुंचाया। चंद्रयान-3 का यह प्रक्षेपण कार्यक्रम भारत के अंतरिक्ष कार्यक्रम में मील का पत्थर साबित होगा और इससे चंद्रमा के बारे में हमारी समझ को आगे बढ़ाने में मदद मिलेगी। श्री गर्ग ने बताया कि अब तक 20 से अधिक देशों ने चंद्रमा पर 146 बार प्रक्षेपण यान भेजे हैं लेकिन अमेरिका,रूस तथा चीन के बाद भारत दुनिया का ऐसा चौथा देश बन गया है जिसने चंद्रमा की सतह को चूमा है तथा चंद्रमा की दक्षिणी ध्रुव पर सफलतापूर्वक उतरने में भारत विश्व का पहला देश बन गया है।*
श्री गर्ग ने बताया कि भारत के इस महत्वाकांक्षी मिशन में केवल 615 करोड रुपए खर्च हुए जो कि देश के अंदर एक छोटे से फ्लाईओवर निर्माण के खर्च के बराबर है। *इतनी कम राशि में हमारा मिशन चांद के उसे हिस्से पर पहुंचा जहां पर दुनिया का आज तक कोई भी देश नहीं पहुंचा है।*
छात्र-छात्राओं को संबोधित करते हुए विज्ञान शिक्षक श्रीमती अर्चना पाल ने कहा कि *चंद्रयान 3 का उद्देश्य चंद्रमा पर ऑक्सीजन और पानी की खोज करना है तथा इन संभावनाओं को भी तलाशना है कि क्या इंसान को चांद पर बसाया जा सकता है अथवा नहीं* इसके साथ ही मैग्निशियम,कैलशियम और लोहे के अलावा द्रव रूप में हीलियम के विशाल भंडार होने की संभावना को भी तलाशना है।
छात्र-छात्राओं में चांद की समझ को विकसित करने के लिए विद्यालय में एक पोस्टर प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया जिसमें
*कु प्रिया प्रजेश में प्रथम स्थान*
*कु सोफिया ने द्वितीय स्थान*
तथा *कु ताजमीन ने तृतीय स्थान* प्राप्त किया।

%d bloggers like this: