Tahelka news

www.tahelkanews.com

अरविंद प्रधान कांग्रेसी का इतिहास— पिछले 45 वर्षों से कांग्रेस से जुड़ा आ रहा है अरविंद प्रधान सुनहरा का परिवार, झबरेड़ा विधानसभा सीट से चुनाव लड़ने की तैयारी

 

लियाकत कुरैशी
झबरेड़ा:- उत्तराखंड कांग्रेस कमेटी अनुसूचित जाति के प्रदेश महासचिव व पूर्व प्रधान अरविंद कुमार सुनहरा का परिवार पिछले 45 वर्षोंं से कांग्रे्स पार्टी के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चल रहा है और 1975 से राजनीति में सक्रिय है  कांग्रेस महासचिव अरविंद प्रधान के पिता बलदेव सिंह को 1975 मैं ग्राम वासियों ने प्रधान पद की जिम्मेदारी दी थी जो 1995 तक रही अपने कार्यकाल में प्रधान बलदेव सिंह ने ग्रामीणों की भरपूर सेवा की मुख्यमंत्री हेमवती नंदन बहुगुणा के रहते हुए अब से 45 साल पहले स्वर्गीय बलदेव सिंह ने ग्राम वासियों को एक एक मकान और दुधारू भैंस सरकारी योजना के तहत दिलवाई थी

तथा उस वक्त सुनहरा से ग्राम माधोपुर तक एक खड़ंजा सड़क का निर्माण भी कराया था और हालांकि 1975 में ग्राम प्रधान रहे बलदेव सिंह को उस दौर के मुख्यमंत्री हेमवती नंदन बहुगुणा ने यह कहकर मना भी कर दिया था कि उत्तर प्रदेश बहुत बड़ा राज्य है में एक एक गांव मैं इतना विकास कराने लगा तो खर्च कहां से आएगा फिर भी अरविंद प्रधान सुनहरा के पिता बलदेव सिंह प्रधान ने अपनी राजनीति के दबाव में पूर्व मुख्यमंत्री हेमवती नंदन बहुगुणा को गांव में बुलाकर विकास कार्य कराये और ग्राम माधोपुर तक एक खड़ंजा का निर्माण भी कराया ग्रामवासी आज भी उनके कार्यों की सराहना करते हैं कांग्रेश अनुसूचित जाति के प्रदेश महासचिव  अरविंद कुमार को  ग्राम सुनहरा की जनता ने 2010 फिर  ग्राम प्रधान पद की जिम्मेदारी दी जिसे अरविंद कुमार ने बखूबी निभाया और गांव सुनहरा में विकास कार्य कराये 2017 में खंजरपुर सीट से अरविंद कुमार जिला पंचायत सदस्य का चुनाव लड़े और केवल 48 वोटों से उन्हें पराजय मिली अपने पूर्वजों की राह पर चलते हुए अरविंद कुमार अब झबरेड़ा विधानसभा सीट से चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे हैं एक सवाल के जवाब में अरविंद कुमार ने कहा कि जिस तरह अब से 45 वर्ष पूर्व पुराने दौर में मेरे पिता बलदेव सिंह ने ग्राम प्रधान रहते हुए विकास कार्य करें मैं भी क्षेत्र की जनता के बीच में रहकर विकास कार्य करूंगा

You may have missed

%d bloggers like this: